Zomato Customer Care Fraud Case: 57K looted in name of Zomato’s Order Cancellation

zomato customer care fraud case - voxya

Zomato पर कैंसिल आर्डर की रकम वापसी के बहाने 57 हज़ार उड़ाए

Lucknow Consumer Case: उत्तर प्रदेश की राजधानी में साइबर जालसाज लोगो के खातों से रकम उड़ाते जा रहे है | आलमबाग में Zomato पर कैंसिल आर्डर की रकम का झांसा देकर जालसाजों ने लिंक भेज कर युवक ने दो खातों से 57 हज़ार रुपये उड़ा लिए | पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर साइबर सेल की मदद से पड़ताल शुरू कर दी |

प्रभारी निरक्षक आलमबाग आनंद कुमार शाही के मुताबिक, बड़ा बरहा में संजय सक्सेना, परिवार के साथ रहते थे | उन्होंने बीते 19 नवंबर को Zomato पर आर्डर कैंसिल होने की सूचना Zomato की website पर दिए नंबर पर दी | कॉल रिसीव करने वाले ने अपना परिचय कस्टमर केयर के विनय कुमार के रूप में दिया | जालसाज ने ऑर्डर कैंसिल होने की बात कहते हुए रुपये वापस करने के लिए गूगल-पे का नंबर मंगा |

संजय ने अपने करीबी रिश्तेदार का नंबर दे दिया | जालसाज ने एक लिंक भेजा और Zomato Refund Form रिफंड फॉर्म भरने का \निर्देश दिया | फॉर्म भरने के बाद दूसरे नंबर पर सेंड करने को कहा | इसके बाद बैंक और बड़ौदा के खाते से चार बार में करीब 22000 रुपये साफ़ कर दिए | मैसेज देख संजय ने रविवार को आलमबाग थाने में तहरीर दी | पुलिस में मुकदमा दर्ज कर लिया |
एक अन्य consumer मामले में, रायबरेली रोड स्थित ओमेक्स सिटी निवासी कैलाशपति सिंह ने बताया कि उन्होंने online ticket Cancel कराना था | सफल न होने पर उन्होंने IRCTC कि वेबसाइट पर शिकायत की | इसके बाद बाईट शनिवार को उनके पास एक कॉल आयी | कॉल काने वाले ने अपना परिचय कस्टमर केयर के कर्मचारी मुकेश कुमार के रूप में दिया | रुपये वापस करने का झांसा देकर जालसाज ने बैंक सम्बन्धी जानकारी हासिल की और खाते से 21,500 रुपये उड़ा लिए | प्रभारी निरीक्षक संजय राय के मुताबिक मुकदमा दर्ज कर लिया गया |

इसलिए सभी उपभोक्ताओं को जागरूक रहना बहुत जरुरी है और आप सभी से अनुरोध है कि कभी भी किसी भी परिस्थिति में आप अपने Bank Account से सम्बंधित कोई भी जानकारी किसी को न दे | अगर किसी भी वजह से आप consumer fraud या online fraud के शिकार हुए है तो आप complaint को Voxya online consumer forum दर्ज करके उसका निवारण करे |

Content source: Amar Ujala News

Ecommerce stores could face penalties if they violate Consumer Protection Rules

consumer complaint against Tata Sky

Currently, the ecommerce services in India are not subject to any standards and rules and hence consumers have to suffer a lot as they do not have proper knowledge and remedies available for them. But this is going to change very soon as a new section is being added for penalty in the upcoming Consumer Protection Rules.

As per the ministry of consumer affairs, the new section will be added for penalty which will cover issues of misleading advertisements, unfair treatment to consumers and several other things. Once this new addition is complete, Ecommerce stores and their vendors could face penalties if they violate Consumer Protection Rules.

The definition of Ecommerce is also being expanded in the new rules to include almost all kinds of online services as provided by big & small ecommerce players like Zomato, Yatra, Ola, Uber, Swiggy, and UrbanPro etc. But Business-to-Business services and goods will be excluded from this new section.

However, we wish more such sections should be added to protect the interest of consumers. Almost everyday thousands of innocent consumers are duped due to ever increasing ecommerce fraud that needs to be stopped firstly. Currently there is no minimum legal requirement for starting a web/ecommerce store, which is the root cause of these fake ecommerce stores. At Voxya, we educate & help consumers to stay away from these fake stores and extend our services to get relief if they have been victimized. You can check our Latest Scams page where we regularly update the list of fake ecommerce stores in India along with Scam phone numbers who will call you to cheat & extract money from you.

Overall, adding new section in the Rules is a good move by Government and it will definitely provide relief to innocent consumers in India who are struggling to get justice!

5 ऑनलाइन शॉपिंग में होने सबसे बड़ी दिक्कते जानिए क्या है समाधान | (5 Most Common Difficulties During Online Shopping)

online shopping consumer complaints- Voxya Consumer Complaints

भारत में ई-कॉमर्स कारोबार पिछले कुछ वर्षों में कई गुना बढ़ गया है और उपभोक्ता अपनी दुकान को ऑफलाइन से ऑनलाइन में बदलते जा रहे है | लोगो को ऑनलाइन खरीद पर डिस्काउंट और नई नई स्कीम काफी लुभा रही है | कुछ कंपनिया अपने प्रोडक्ट को ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट के माध्यम से लांच करती है खासतौर पर अमेज़न, फ्लिपकार्ट, शॉपक्लूज, स्नैपडील आदि | ई-कॉमर्स वेबसाइटों की संख्या में वृद्धि के साथ साथ उपभोक्ताओं को ऑनलाइन खरीदारी करने पर कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है |

जानते है वो कौन सी दिक्कते है जो उपभोक्ताओं को ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) करने पर आती है |

उत्पाद की गुणवत्ता से सम्बंधित शिकायते : सबसे बड़ी दिक्कत उपभोक्ताओ को ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) करने पर यह होती है कि प्रोडक्ट क्वालिटी के विषय में कोई भी गारंटी नहीं होती है | बहुत से ऐसे सेलर होते है बड़े ब्रांड के नाम पर लोकल प्रोडक्ट को ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से बेचते है | ऑनलाइन देखने में प्रोडक्ट ब्रांड की तरह लगता है लेकिन जब प्रोडक्ट घर पर पहुँचता है तब उपभोक्ता ठगा सा रह जाता है | इस तरह की कई उपभोक्ता शिकायते (consumer complaints) हमारे Voxya की वेबसाइट पर आयी है जिसमे कई तरह के फ्रॉड उत्पाद की गुणवत्ता को लेकर हुए है |

सामान वितरण सम्बन्धी शिकायते (Baggage delivery related complaints): हमे कई शिकायते ऐसी मिली है जिसमे उपभोक्ता ने मोबाइल फ़ोन मगाया लेकिन उसको साबुन की टिकिया मिली तो किसी को निरमने का पैकेट मिला, इतना ही नहीं कुछ लोगो को पार्सल में ईट और पत्थर भी मिले | इसमें कुछ फ्रॉड ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट (fraud online shopping website) और बीच के लोग होते है, जो पैसे अधिक कमाने के चक्क्र में उपभोक्ताओं से ठगी करते है | इस तरह की दिक्कतों का सामना भी उपभोक्ताओं को ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) में करना पड़ता है |

भुगतान सम्बन्धी शिकायते (Payment related complaints): अक्सर उपभोक्ताओं को ऑनलाइन पेमेंट करने पर कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है जिसमे उपभोक्ता के अकाउंट से पैसे कट जाते है लेकिन उनकी पेमेंट कन्फर्म नहीं होती है | पेमेंट कन्फर्म न होने की वजह से उनके आर्डर भी कैंसिल हो जाते है | इस तरह से होने वाली दिक्क्तों में उपभोक्ता रिफंड के लिए कंपनी से बार बार संपर्क करने की कोशिश करता है और उसको 10 से 15 दिन का इंतज़ार करने को कहा जाता है | कभी कभी तो काफी इंतज़ार करने बाद भी रिफंड नहीं मिलता और उपभोक्ता शिकायत की कोई भी सुनवाई नहीं होती है |

छिपी कीमत और अधिक पैसे लेने की शिकायते (Hidden cost & overcharging complaints): अक्सर ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) से जब कोई प्रोडक्ट खरीदते है तब उसमे कई तरह की कीमत छुपी हुई होती है | जो की बाद में टैक्स, शिपिंग चार्ज और हैंडलिंग चार्ज के रूप में उपभोक्ता सामने आते है | इतना ही नहीं कभी कभी तो MRP से अधिक भी चार्ज कर लेते है, जब तक उपभोक्ता को पता चलता है तब तक उपभोक्ता के खाते से पैसे कट चुके होते है |

अस्पष्ट वेबसाइट नीतियां (Obscure website policies): ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट (online shopping website) की रिफंड, वापसी और सामना के बदलने की पॉलिसी उपभोक्ताओं के पक्ष में बहुत ही कम होती है | इस पॉलिसी को इतनी जटिल तरीके से लिखा जाता है कि उनको समझने में काफी समय लगता है | कभी कभी तो इतनी ज्यादा पॉलिसी को लिख देते है उपभोक्ता उसको बिना पढ़े ऑनलाइन शॉपिंग (online shopping) करने लगता है | सबसे खास बात यह है कि आपको कई शब्दों पर “*” निशान लगा हुआ मिलता है | जिसका मतलब है इससे सम्बन्धी जानकारी और दिशा निर्देश अलग है जिसको उपभोक्ता अनदेखा कर देता है | अगर आपने इन नियमो और पॉलिसी को ध्यान से नहीं पढ़ा है तब आपको दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है |

इस तरह की दिक्कतों का सामना अक्सर ऑनलाइन शॉपिंग में उपभोक्ताओं को करना पड़ता है |

अगर आपको ऑनलाइन शॉपिंग से सम्बंधित किसी भी प्रकार की उपभोक्ता शिकायत है तो आप अपनी शिकायत को Voxya ऑनलाइन कंस्यूमर फोरम (online consumer forum) पर करके अपनी समस्या का उचित समाधान प्राप्त कर सकते है | अपनी शिकायत को दर्ज करने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करे :-> File Consumer Complaint Now!

voxya consumer complaint forum-online shopping

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को शिकायत कैसे करे? (How To Complaint to the Chief Minister Of Uttar Pradesh?)

Uttar Pradesh CM Complaint - Voxya

उत्तर प्रदेश में भृष्टाचार रोकने और लोगो की समस्याओ को सुनने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ जी (Chief Minister of Uttar Pradesh honorable Yogi Adityanath) ने एक वेबसाइट को लांच किया है | इस वेबसाइट का नाम है “जनसुनवाई” | इस पोर्टल पर जाकर आप अपनी शिकायत को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ जी तक पंहुचा सकते है | इतना ही नहीं इसका मोबाइल ऐप भी है जिसका नाम है “जनसुनवाई- एंड्राइड ऐप” | इस ऐप को इनस्टॉल करके भी आप अपनी शिकायत को दर्ज कर सकते है |

Jansunwai Portal, Uttar Pradesh Government - Voxya

जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत कैसे करते है?

शिकायत करने के लिए आपको “शिकायत पंजीकरण” पर क्लिक करना होगा | जिसमे कुछ चीजे लिख कर आएँगी उन्हें ध्यान से पढ़ना होगा | सभी चीजे पढ़ने के बाद अगर आप सहमत है तो चेकबॉक्स पर क्लिक करना होगा | इसके बाद आप “सबमिट करे” बटन पर क्लिक करे |

सबमिट बटन पर क्लिक करने के बाद आपके पास “ऑनलाइन पंजीकरण पटल” खुल के सामने जायेगा |

इसमें आपको मोबाइल नंबर या फिर ईमेल आईडी को लिखना होना और कॅप्टचा को भर कर “सबमिट करे” बटन पर क्लिक करना होगा | जिसके बाद आपके मोबाइल पर एक ओ. टी. पी. आएगा | उस ओ. टी. पी. प्रविष्ट करना होगा | जैसे ही आप “सबमिट करे” क्लिक करेंगे एक फॉर्म खुल के सामने आएगा | इस फॉर्म को भर के आप अपनी शिकायत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी को कर सकते है |

फॉर्म को भरने के बाद आप जब नीचे की ओर जाते है तो उसमे आपसे पूछा जाता है कि आप पहली बार शिकायत कर रहे है | अगर आपकी पहली बार शिकायत नहीं है और आप पिछली शिकायत के विषय में कर्यवाही चाहते है तो पुरानी शिकायत का नंबर लिखना होता है |

अपनी शिकायत के समर्थन में आवश्यक दस्तावेजों को भी आप संलग्न कर सकते है |

उसके बाद “सबमिट करे” बटन पर क्लिक करे |

शिकायत को सबमिट करने के बाद आपको एक नंबर मिलता है, जिसे आपको संभाल कर रखना होता है | इस शिकायत नंबर के माध्यम से आप शिकायत की स्थिति को जान सकते है |

अपनी शिकायत की स्थिति जानने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करे :=> Track Your Complaint

Jansunwai Portal, Uttar Pradesh Government - Voxya UP India

अगर आपकी उपभोक्ता सम्बन्धी किसी भी प्रकार की शिकायत है और उसका समाधान जल्द से जल्द पाना चाहते है तो अपनी शिकायत को दर्ज करने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करे :=> File a Complaint Now!

file consumer complaint india